शुक्रवार, 26 फ़रवरी 2010

कैलाश गुरुस्वामी का देहावसान


सीहोर। उर्दू अरूज़ (छन्द शास्त्र) के आचार्य और सुविख्यात शायर डाॅ. कैलाश गुरुस्वामी का 15 फरवरी को एक सड़क दुर्घटना में देहावसान हो गया। डाॅ. गुरुस्वामी दिल्ली से पधारे शायर के श्री मंगल नसीम के सम्मान में आयोजित एक आत्मीय मुशायरे में भाग लेने भोपाल आये थे। भोपाल से सीहोर वापसी के समय उनके स्कूटर में मोटर साइकिल सवार ने उन्हें टक्कर मार दी, जिससे वे गम्भीर रूप से घायल हो गये। उन्हें तत्काल सीहोर के अस्पताल में भरती किया गया। हालत गम्भीर होने के कारण उन्हें भोपाल लाया गया, जहाँ उन्होंने अन्तिम सांँस ली।
डाॅ. स्वामी के देहावसान के बाद उनके पुत्र श्री परितोष शर्मा ने डाॅ. स्वामी के मोबाइल में दर्ज नम्बरों पर एक एस.एम.एस. किया -‘कुछ भी न रहा पास, दिखाने के वास्ते; बस ख़ाक रह गई उड़ाने के वास्ते। अफसोस मरने वालों पर ‘स्वामी न कीजिये, मुल्के अदम को है सभी जाने के वास्ते।’ आप सभी मेरे पापा के अपनों को पापा की तरफ से आख़री सलाम। आप सभी मेरे पापा की आत्मा की शान्ति के लिए ऊपर वाले से दुआ कीजिए।’
श्री परितोष शर्मा का पता है- ‘3-लेबर काॅलोनी, सीहोर।’

2 टिप्‍पणियां:

निर्मला कपिला ने कहा…

डाॅ. स्वामी के देहावसान की खबर से बहुत दुख हुया । उनकी आतमा की शाँति के लिये भगवान से प्रार्थना करती हूँ उनके परिवार को भी ये दुख सहन करने का बल दे। धन्यवाद्

गिरीश पंकज ने कहा…

dujkkhad khabar ke bahaane hi sahi, aapake blog ka pataa chala. mera blog bhi dekh le.. http://sadbhawanadarpan.blogspot.com